सीएम योगी आदित्यनाथ ने मानी प्रियंका गांधी की बात

मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रियंका गांधी की मांग को मान लिया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मानी प्रियंका गांधी की बात
Yogi And Priyanka Gandhi

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शनिवार को मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ को संबोधित करते हुए पत्र लिखकर कांग्रेस पार्टी की ओर से प्रवासी श्रमिकों को पहुंचाने के लिए 1000 बसें चलाने की मांग की थी, जिसे योगी सरकार ने स्वीकार लिया है। मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रियंका गांधी की मांग को मान लिया है। हालांकि, योगी सरकार ने प्रियंका गांधी से ड्राइवरों और कंडक्टरों की सूची भी मांग लिया है। प्रियंका गांधी को दिए जवाब में सरकार ने पत्र में लिखा है कि अविलंब एक हजार बसों की सूची चालक/परिचालक का नाम व अन्य विवरण सहित उपलब्ध कराने का कष्ट करें। जिससे इसका उपयोग प्रवासी श्रमिकों की सेवा में किया जा सके।

Image

वहीं योगी सरकार द्वारा मंजूरी मिलने के बाद प्रियंका गांधी ने ट्विट कर योगी सरकार का आभार प्रकट किया है। प्रियंका गांधी ने अपने ट्विट में लिखा - योगी आदित्यनाथ जी महामारी के समय इंसान की जिंदगी को बचाना, गरीबों की रक्षा करना, उनकी गरिमा की हिफाजत करना हमारा नैतिक दायित्व और अधिकार है। कांग्रेस इस कठिन समय में अपनी पूरी क्षमता और सेवाव्रत के साथ अपने कर्तव्यों का पालन कर रही है। ये बसें हमारी सेवा का विस्तार हैं।

प्रियंका गांधी ने अगले ट्विट में लिखा - हमें उप्र में पैदल चलते हुए हजारों भाई-बहनों की मदद करने के लिए, कांग्रेस के खर्चे पर 1000 बसों को चलवाने की इजाजत देने के लिए आपको धन्यवाद। आपको उप्र कांग्रेस की तरफ से मैं आश्वस्त करती हूँ कि हम सकारात्मक भाव से महामारी और उसके चलते लॉकडाउन की वजह से पीड़ित उप्र के अपने भाई-बहनो के साथ इस संकट का सामना करने के लिए खड़े रहेंगे।