UP Election 2022: बेटे को सियासी गुर सिखा रहे सतीश चंद्र मिश्रा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले बहुजन समाज पार्टी के कद्दावर नेता सतीश चंद्र मिश्रा अपने परिवार के साथ मायावती को 5वीं बार मुख्यमंत्री बनाने के लिए जोर लगा रहे हैं। मायावती के सबसे विश्वसनीय सतीश मिश्रा के साथ उनके बेटे-बेटी के अलावा पत्नी भी बसपा के लिए वोट मांग रही हैं।

UP Election 2022: बेटे को सियासी गुर सिखा रहे सतीश चंद्र मिश्रा
#SatishChandraMishra

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले बहुजन समाज पार्टी के कद्दावर नेता सतीश चंद्र मिश्रा अपने परिवार के साथ मायावती को 5वीं बार मुख्यमंत्री बनाने के लिए जोर लगा रहे हैं। मायावती के सबसे विश्वसनीय सतीश मिश्रा के साथ उनके बेटे-बेटी के अलावा पत्नी भी बसपा के लिए वोट मांग रही हैं। रविवार को सतीश चंद्र मिश्रा ने अपने कार्यालय पर दृष्टिबाधित लोगों का एक कार्यक्रम किया। जिसमें उनकी पत्नी कल्पना मिश्रा, बेटा कपिल मिश्रा और बेटी भाग्यश्री मौजूद थी।

कार्यक्रम के दौरान सतीश चंद्र मिश्रा बेटे कपिल मिश्रा को राजनीति के गुर सिखाते दिखे और समझाया कि कैसे मंच को संभालते हैं और लोगों को संबोधित करते हैं। उपस्थित लोगों से कपिल मिश्रा ने कहा कि उनके पिता सतीश मिश्रा ने लोगों की सेवा में हमेशा आगे रहे हैं। अगर आप लोग अपना भाग्य बदलना चाहते हैं तो 2022 में एकजुट होकर बहुजन समाज पार्टी को मतदान करें और 5वीं बार मायावती जी को मुख्यमंत्री बनाए।

वहीं लखीमपुर खीरी की घटना पर कल्पना मिश्रा ने कहा कि किस तरह प्रदेश में एक अपराधी को बचाया जा रहा है। यह शर्म की बात है कि बीजेपी सरकार अपराधियों पर कार्रवाई नहीं कर पा रही है। आज प्रदेश में अराजकता बढ़ गई है। इस अराजकता को समाप्त करने के लिए बहन मायावती को मुख्यमंत्री बनाना अनिवार्य है।

सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि बसपा की सर्वसमाज की पार्टी है। जिसमें हर जाति-धर्म के लोगों को जगह दी जाती है। अन्य पार्टियों की तरह बसपा सांप्रदायिकता नहीं फैलाती। आज जब प्रदेश बदहाली से जूझ रहा है तब जरुरत है कि सब एक होकर हाथी का निशान चुने और बसपा की सरकार बनाए। उन्होंने भरोसा जताया कि 2022 में बसपा सरकार बनना तय है।