DelhiRiots: राहुल गांधी के आरोपों पर स्मृति ईरानी का पटलवार

शुक्रवार को 24 अकबर रोड पर मीडिया को संबोधित करते हुए कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब दिल्ली में हिंसा हो रहे थे, तो उस वक्त गृहमंत्रालय क्या कर रहा था?

DelhiRiots: राहुल गांधी के आरोपों पर स्मृति ईरानी का पटलवार
Smriti Irani & Rahul Gandhi

शुक्रवार को 24 अकबर रोड पर मीडिया को संबोधित करते हुए कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब दिल्ली में हिंसा हो रहे थे, तो उस वक्त गृहमंत्रालय क्या कर रहा था? राहुल ने पूछा कि जब लोग लाल किले के अंदर घुस कर रहे थे तो देश के गृहमंत्री क्या कर रहे थे? राहुल गांधी ने तल्ख लहजे में कहा किसानों को लाल किले में किसने जाने दिया और क्यों जाने दिया? क्या गृह मंत्रालय का काम नहीं है कि लाल किले पर इनको जाने से रोका जाए, उसके लिए कौन जिम्मेदार है? गृह मंत्री से जाकर पूछिए। वहीं राहुल गांधी के बयान के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बीजेपी मुख्यालय पहुंची, जहां से उन्होंने राहुल गांधी के आरोपों पर पटलवार किया है।

स्मृति ईरानी का पटलवार

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि आज अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने घोषणा की कि 26 जनवरी के दंगों को देश के हर शहर और यहां तक मलीन बस्तियों में दोहराया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार कांग्रेस नेता ने शांति की बजाय हिंसा के लिए आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने आजज भारत के लोगों विरुद्ध युद्ध की घोषणा कर दी है। केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सांसद ने कहा कि अगर उनके राजनीतिक रुख को हमारे देश के प्रधानमंत्री का समर्थन नहीं मिलता है तो शहर जल जाएंगे।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 26 जनवरी को दिल्ली के दंगों में 300 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो  गए, जबकि कुछ पत्रकारों को भी चोटें आई। लेकिन आज राहुल गांधी के मुख से घायल एक भी पुलिस कर्मी के लिए सांत्वना के शब्द नहीं निकले। आज राहुल गांधी के मुख से एक भी मीडियाकर्मी जिन पर हमला हमला हुआ, उन पर संवेदना के एक भी शब्द सुनाई नहीं दिए।

मोदी सरकार पर भड़के राहुल गांधी

इससे पहले राहुल गांधी ने दिल्ली हिंसा को लेकर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार समस्या को सुलझाने की बजाय किसानों को पीट रही है, धमका रही है, NIA का प्रयोग कर रही है। किसानों को बदनाम करने की कोशिश कर रही है। राहुल गांधी ने कहा आज जो हो रहा है, सिंघू बॉर्डर पर सरकार जो किसानों पर आक्रमण कर रही है, किसानों को मार रही है; ये बिल्कुल गलत है। उन्होंने कहा मैं किसानों से कहना चाहता हूं कि हम सब आपके साथ हैं; 1 इंच पीछे मत हटिये, ये आपका भविष्य है, इसके लिए आप लड़िये। राहुल गांधी ने कहा प्रधानमंत्री को ये नहीं सोचना चाहिए कि आंदोलन यहाँ रूकेगा,  ये आंदोलन किसानों से शहरों के अंदर तक जायेगा। क्योंकि सिर्फ किसान गुस्सा नहीं हैं, इन्हीं 4-5 लोगों ने युवाओं का रोजगार छीना है, ये आंदोलन अब शहरों में फैलेगा।