अखिलेश यादव ने खेला जातीय जनगणना का कार्ड, बोले - सरकार बनी तो OBC को दिलाएंगे उनका हक

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ओबीसी वर्ग को साधते हुए वादा किया है कि अगर उनकी सरकार बनती है तो वे प्रदेश में जातीय जनगणना कराएंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि पिछड़ों को उनका हक और सम्मान दिलाया जाएगा।

अखिलेश यादव ने खेला जातीय जनगणना का कार्ड, बोले - सरकार बनी तो OBC को दिलाएंगे उनका हक
#AkhileshYadav

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ओबीसी वर्ग को साधते हुए वादा किया है कि अगर उनकी सरकार बनती है तो वे प्रदेश में जातीय जनगणना कराएंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि पिछड़ों को उनका हक और सम्मान दिलाया जाएगा। बीजेपी पर निशाना साधते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार पिछड़ों की गणना नहीं कराना चाहती है, क्योंकि वह जानती है कि इससे पिछड़े अपना हक और सम्मान मांगेंगे। समाजवादी पार्टी सहित तमाम दल चाहते हैं कि पिछड़ों की गिनती हो जाए, लेकिन भारतीय जनता पार्टी जातीय गणना नहीं कराना चाहती है। पिछड़े और दलितों की यह सबसे बड़ी मांग है।

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार में उत्तर प्रदेश में अपराध बढ़ा है। मुख्यमंत्री अपराध के मामले में झूठ बोलते हैं। उन्हें एनसीआरबी के आंकड़ों की जानकारी नहीं है। वे एनसीआरबी का रिकॉर्ड नहीं देखते हैं। महिलाओं पर सबसे ज्यादा अत्याचार और अन्याय यूपी में हो रहा है। मोहम्मद आज़म खान को फर्जी मुकदमें में फंसा करके जेल में रखा गया है। सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ यूपी में हुई। मानवाधिकार की सबसे ज्यादा नोटिस  यूपी सरकार को मिली। मुख्यमंत्री हर सप्ताह अपने गृह क्षेत्र गोरखपुर जाते हैं। वहां अपराध लगातार बढ़ रहे हैं। एक व्यापारी की पुलिस पिटाई से मौत हो गई, इसकी जिम्मेदार यह सरकार है। 40 से ज्यादा संतो की हत्या हो चुकी है।

अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं को तबाह कर दिया है। महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। लोगों के पास नौकरी और रोजगार नहीं है। पूरे प्रदेश का गरीब, किसान नौजवान, भाजपा सरकार के खिलाफ है। भाजपा मंत्रियों, सांसदों, विधायकों को अपमानित होना पड़ रहा है। भाजपा सरकार सरकारी संस्थानों को बेचने के साथ ही पिछड़ों और दलितों का आरक्षण भी बेंच दे रही है। अगर सब कुछ निजी हाथों में चला जाएगा तो आरक्षण कौन देगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने अपने संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं किया। किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई। किसानों की आय पहले से कम हो गई है। लैपटॉप नहीं बांटा। बिजली महंगी कर दी। डीजल, पेट्रोल खाद, बीज, महंगा हो गया। भाजपा झूठा प्रचार कर रही है। उसने कोई काम नहीं किया है। यही प्रचार ही उनका विकास है।