लखनऊ में मल्लाहों के आरक्षण के लिए संकल्प यात्रा निकालकर संजय निषाद ने दिखाया दम, BJP को दी नसीहत

डॉ संजय निषाद की अगुवाई में निषाद पार्टी ने बुधवार को आरक्षण के हक के लिए लखनऊ में संकल्प समाज उत्थान आरक्षण यात्रा रथ के जरिए यूपी विधानसभा चुनाव के लिए दम दिखाया। उन्होंने बताया कि इस यात्रा के लिए निषाद पार्टी 20 हजार किमी की यात्रा तय करेगी, जिसका समापन 15 अक्टूबर को लखनऊ में होगा।

लखनऊ में मल्लाहों के आरक्षण के लिए संकल्प यात्रा निकालकर संजय निषाद ने दिखाया दम, BJP को दी नसीहत
#DrSanjayNishad

डॉ संजय निषाद की अगुवाई में निषाद पार्टी ने बुधवार को आरक्षण के हक के लिए लखनऊ में संकल्प समाज उत्थान आरक्षण यात्रा रथ के जरिए यूपी विधानसभा चुनाव के लिए दम दिखाया। उन्होंने बताया कि इस यात्रा के लिए निषाद पार्टी 20 हजार किमी की यात्रा तय करेगी, जिसका समापन 15 अक्टूबर को लखनऊ में होगा। संजय निषाद ने कहा कि 15 अक्टूबर को उनकी पार्टी विशाल महारैली आयोजित कर सरकार बनाओ-अधिकार पाओ की आवाज को बुलंद करेगी।

BJP को दी नसीहत

इस दौरान संजय निषाद ने कहा कि निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल का गठन ही निषाद पार्टी का गठन ही निर्बलों, वंचितों और शोषितों के हक अधिकार और मान-सम्मान के लिए किया गया था। बीजेपी को नसीहत देते हुए उन्होंने कहा कि अगर समय से हमारी सहयोगी पार्टी अपने किए हुए वायदों को पूरा नहीं करती है तो केवल डॉ. संजय निषाद भाजपा के सहयोगी के रूप में अकेले निषाद रह जाएंगे, इसलिए बीजेपी को जल्द अपना वादा पूरा कर निषाद समाज का उत्थान भी करना चाहिए, तभी असल मायनों में पीएम नरेंद्र मोदी जी का सपना सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास भी पूरा होगा।

पूर्व की सरकारों को बताया काला अंग्रेज

पूर्व की सरकारों को काला अंग्रेज बताते हुए संजय निषाद ने कहा कि आजादी से पूर्व मुगलो और अंग्रेजो ने निषाद समाज को कानून बनाकर उजाड़ने का काम किया था और आजादी के बाद से काले अग्रेंजो ने अपने अपने समाज के उत्थान के लिए देश में सबसे ज्यादा आबादी होने वाले निषाद समाज को उनके हक-अधिकार से वंचित रख उजाड़ने का काम किया।

स्टिंग ऑपरेशन पर दिया जवाब

टीवी चैनल द्वारा किए गए स्टिंग ऑपरेशन पर निषाद पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि आज निषाद पार्टी की लोकप्रियता बढ़ रही है तो विरोधी अचंभित है कि कैसे एक मल्लाह का बेटा मात्र 5 साल के राजनीतिक सफर में राजनीति के बड़े-बड़े सुरमाओं को हराने और पिछड़े-शोषित समाज को एकजुट करने में सफल हो गया है। ऐसे में विरोधी भिन्न-भिन्न प्रकार के हथकंडे अपना रहे हैं कैसे निषाद पार्टी खत्म हो जाए तो मैं उनके बताना चाहता हूं कि आज जो भी लोग मेरे स्टिंग ऑपरेशन करवा रहे है या कर रहे है मैं उनको बता देना चाहता हू कि मैं एक गरीब घर से हू एक गरीब मां की कोख से जन्म लिया हूं और अगर कोई मेरे ऊपर ये आरोप लगता है कि मैं किसी से पैसे मांगता हू या पैसे से टिकट बेचता हूं। वह कभी अपने एयर कंडीशनर वाले कमरे से बाहर निकल कर तो देखे कि पार्टी कैसे खड़ी होती है या कैसे चलती है।

उन्होंने कहा कि मैं एक गरीब घर का बेटा हूं और पार्टी को कैसे चला रहा हू ये देखकर वो खून की आंसू ना रो पड़ा तो मैं अपना नाम बदल दूंगा। ऐसे आलिशान महल के एयर कंडीशनर रूम में बैठकर किसी के बारे में कुछ भी लिख देना या चला देना बड़ा आसान है लेकिन कभी वो सड़क पर निकल कर ऐसों आराम वाली जिंदगी से हटकर तो देखे कि कैसे गरीब लोग और उनके बेटे एक टाइम खाना खाकर जी रहे है।

संजय निषाद ने कहा कि मैं तो पूछना चाहता हू ये स्टिंग एक गरीब के बेटा और उनके मसीहा का ही क्यों? स्टिंग तो उनका होना चाहिए ना जो 70 सालों से इन गरीबों के हक और मान सम्मान को खा रहा है उनके बच्चों का भविष्य खा रहा है। आज डॉ संजय निषाद आप सभी के माध्यम से उन दलालों को भी न्योता दे रहा है जो एक गरीब के बेटे को साजिश के तहत फंसा रहे है। वो आए मेरे साथ इस रथ यात्रा का हिस्सा बने और देखे की गरीबों की जिंदगी कैसी होती है कैसे गरीब लोग झुग्गी झोपड़ी में अपना जीवन व्यतीत कर रहे है?