जानिए मोदी सरकार की गरीब कल्याण रोजगार योजना के बारे में, घर के पास मिलेगी नौकरी

देश के गांवों में आजीविका के अवसरों को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत करेंगे।

जानिए मोदी सरकार की गरीब कल्याण रोजगार योजना के बारे में, घर के पास मिलेगी नौकरी
Garib Kalyan Rojgar Yojna

कोरोना की वजह से देश के बड़े शहरों से गांवों की ओर लौटे श्रमिकों के लिए मोदी सरकार एक विशेष रोजगार अभियान शुरु करने जा रही है, जिससे लोगों को अपने जिले या आसपास के जिले में नौकरी मिल जाए। बता दें, देश के गांवों में आजीविका के अवसरों को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत करेंगे। इस अभियान को बिहार के खगड़िया जिले के ग्राम-तेलिहार, ब्लॉक- बेलदौर से लॉन्च किया जाएगा। इस कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे।

मोदी सरकार गरीब कल्याण रोजगार योजना को देश के 6 राज्यों के 116 जिलों में शुरु करेगी। इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, ओडिशा और झारखंड के लोगों को मिलेगा। इस योजना से जिले के दो-तिहाई लोगों को लाभ मिलने की उम्मीद है। इस योजना के लिए सरकार 50,000 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इस रोजगार अभियान को 125 दिनों तक मिशन मोड में चलाया जाएगा।

केंद्र सरकार का कहना है कि इस योजना के तहत 50 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे, जिससे श्रमिकों को रोजगार मिलेगा। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों के बुनियादी ढांचे में आमूल-चूल परिवर्तन होने की संभावना है। गरीब कल्याण रोजगार अभियान गांवों के भाग्योदय में मील का पत्थर साबित होगा। यह अभियान 12 मंत्रालयों या विभागों के लिए विशेष तौर पर चलाया जाएगा। जिनमें ग्रामीण विकास, पंचायती राज, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, खान, पेयजल और स्वच्छता, पर्यावरण, रेलवे, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, नई और नवीकरणीय ऊर्जा, सीमा सड़क, दूरसंचार और कृषि हैं। अर्थात् इन मंत्रालयों से संबंधित कार्यों को इस रोजगार अभियान के तहत पूरा किया जाएगा।