कोरोना के मद्देनजर सरकार लाने वाली है इंश्योरेंस पॉलिसी, ऐसे पाएं लाभ

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच भारत सरकार की संस्था भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDA) ऐसी इंश्योरेंस पॉलिसी लाने पर विचार कर रही है

कोरोना के मद्देनजर सरकार लाने वाली है इंश्योरेंस पॉलिसी, ऐसे पाएं लाभ
Covid Medical Policy Covid Kavach Insurance

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच भारत सरकार की संस्था भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDA) ऐसी इंश्योरेंस पॉलिसी लाने पर विचार कर रही है, जिसमें कोरोना मरीजों की कवर किया जा सके। IRDA ने बीमा कंपनियों को 10 जुलाई तक छोटी अवधि वाली मानक कोविड चिकित्सा पॉलिसी/कोविड कवच बीमा जैसी योजना लाने को कही है। IRDA ने अपने दिशा-निर्देश में कहा कि बीमा की ये अवधि 3.5 महीने, 6.5 महीने और 9.5 महीने होनी चाहिए। IRDA की माने तो ये बीमा पॉलिसी 50 हजार रुपए से 5 लाख रुपए के बीच हो सकती है। बीमा कंपनियों को IRDA ने कहा है कि इस प्रकार की सुविधाओं के नाम कोरोना कवच बीमा ही होना चाहिए। इसके बाद ही कंपनी अपना नाम जोड़ सकती है।

IRDA ने बीमा कंपनियों से कहा है कि इसके प्रीमियम पूरे देश में एक समान होने चाहिए। साथ ही बीमा उत्पादों के लिए एकल प्रीमियम भुगतान करना होगा। IRDA का कहना है कि इन बीमा उत्पादों में कोरोना वायरस के इलाज के साथ ही किसी अन्य पुरानी अथवा नई बीमारी के इलाज का खर्च भी शामिल होना चाहिए। IRDA का कहना है कि ये बीमा योजना 10 जुलाई के पहले उपलब्ध हो जाना चाहिए।

जानिए कोरोना कवच बीमा पॉलिसी से उपभोक्ताओं को क्या लाभ होगा?

  • इस बीमा के तहत अस्पताल में भर्ती होने पर, घर पर ही इलाज कराने, आयुष से उपचार करने तथा अस्पताल  में भर्ती होने से पहले व बाद के खर्चों को कवर करेगा।
  • कोरोना कवच बीमा पॉलिसी के तहत अस्पताल में भर्ती होने पर रुम, पीपीई किट, ग्लव्स, मास्क आदि खर्च शामिल होंगे।
  • वहीं घर पर रहकर इलाज होने की दशा में भी 14 दिन के लिए इलाज का खर्च कवर किया जाएगा। वहीं कोरोना रक्षक के मामले में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मरीज को कम से कम 72 घंटे अस्पताल में भर्ती होना होगा। 
  • इस बीमा की अवधि 105 दिन, 195 दिन और 285 दिन तय की गई है।
  • IRDA के दोनों पॉलिसी में 18 साल से 65 साल के लोगों का बीमा हो सकेगा। वहीं 3 महीने से 25 साल की उम्र के आश्रित बच्चों को भी बीमा के तहत कवर किया जाएगा।
  • कोरोना कवच के तहत परिवार शामिल होंगे, जबकि कोरोना रक्षक एक व्यक्तिगत पॉलिसी होगी।