राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले कांग्रेसी नेता, लखीमपुर हिंसा की निष्पक्ष जांच की मांग की

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा की अगुवाई में 5 सदस्यीय कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर लखीमपुर हिंसा मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की। राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हमने राष्ट्रपति से लखीमपुर हिंसा की निष्पक्ष न्यायिक जांच की मांग की है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले कांग्रेसी नेता, लखीमपुर हिंसा की निष्पक्ष जांच की मांग की
#PresidentRamNathKovind

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा की अगुवाई में 5 सदस्यीय कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर लखीमपुर हिंसा मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की। राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हमने राष्ट्रपति से लखीमपुर हिंसा की निष्पक्ष न्यायिक जांच की मांग की है। इसके अलावा गृहराज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी की तुरंत बर्खास्तगी की मांग की। राहुल गांधी ने कहा लखीमपुर नरसंहार के शहीद किसानों के परिवार न्याय चाहते हैं। जिस व्यक्ति ने ये हत्याएं की हैं, उसको सजा मिले। हमारी मांगें हैं कि गृह राज्य मंत्री को बर्खास्त किया जाये, दो सिटिंग जजों के अधीन निष्पक्ष जाँच हो, अपराधियों को सजा मिले।

प्रियंका वाड्रा ने कहा लखीमपुर खीरी हिंसा में शहीद पत्रकार और शहीद किसानों के परिजन सिर्फ न्याय चाहते हैं। उनके लिए न्याय मतलब है - सिटिंग जजों के द्वारा निष्पक्ष जाँच की जाये और अपराधी के पिता गृह राज्यमंत्री हैं, उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त किया जाये।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम राहुल गांधी जी के नेतृत्व में राष्ट्रपति जी से मिले। जो लखीमपुर खीरी में किसानों पर अन्याय हुआ है, किसानों को कुचल-कुचल कर मार दिया गया; हमने राष्ट्रपति जी से मिलकर सविस्तार स्थिति से अवगत करवाया और उनके समक्ष शहीद किसानों के परिजनों की मांगें रखी।