कोविड-19 से लड़ाई में PM Cares Fund से दिए जाएंगे 50,000 Made in India वेंटिलेटर

पीएम केयर्स फंड के पैसों से 50000 वेंलिलेटर कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में दिए जाएंगे। सबसे बड़ी बात यह है कि ये सभी वेंटिलेटर मेड इन इंडिया है।

कोविड-19 से लड़ाई में PM Cares Fund से दिए जाएंगे 50,000 Made in India वेंटिलेटर
PM Cares Fund

पीएम केयर्स फंड को लेकर विपक्षी दलों ने मोदी सरकार पर तमाम सवाल खड़ किए थे। इस संबंध में वह कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा चुके हैं, लेकिन उन्हें वहां मात मिली थी। वहीं अब पीएम केयर्स फंड के पैसों से 50000 वेंलिलेटर कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में दिए जाएंगे। सबसे बड़ी बात यह है कि ये सभी वेंटिलेटर मेड इन इंडिया है। इन वेंटिलेटर के लिए पीएम केयर्स के तहत 2000 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। इसके अलावा घर पहुंचे श्रमिकों के कल्याण के लिए राज्यों को 1000 करोड़ आवंटित किए जा चुके हैं।

बता दें, 50,000 वेंटिलेटर में से 30,000 वेंटिलेटर एम/एस भारत इलेक्ट्रॉनिक्स (Bharat Electronics) लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहे हैं। बाकी 20000 वेंटिलेटर में से 10000 वेंटिलर एग्वा हेल्थकेयर (Agva Healthcare), 5650 वेंटिलेटर एएमटीजेड बेसिक (AMTZ Basic), 4000 वेंटिलेटर एएमटीजेड हाई एंड (AMTZ High And) और 350 वेंटिलेटर एलायड मेडिकल (Allied Medical) द्वारा बनाए जा रहे हैं।

बता दें, अभी तक 2923 वेंटिलेटर बनाए जा चुके हैं। जिसमें ने 1340 वेंटिलेटर राज्यों को भेज दिए गए हैं। 275 वेंटिलेटर महाराष्ट्र, 275 वेंटिलेटर दिल्ली, 175 वेंटिलेटर गुजरात, 100 वेंटिलेटर बिहार, 90 वेंटिलेटर कर्नाटक और 75 वेंटिलेटर को राजस्थान को दिया गया है। वहीं जून के अंत तक सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 14,000 वेंटिलेटर की आपूर्ति कर दी जाएगी।

वहीं पीएम केयर्स फंड से 1000 करोड़ रुपए राज्यों को दिए जा सकेंगे, जिससे श्रमिकों का कल्याण किए जा सके। राज्य की जनसंख्या और कोरोना मरीजों के लिहाज से राज्यों को ये पैसे दिए गए हैं। राज्यों द्वारा दिए गए पीएम केयर्स फंड से महाराष्ट्र् को 181 करोड़, उत्तर प्रदेश को 103 करोड़ रुपए,, तमिलनाडु को 83 करोड़ रुपए, गुजरात को 66 करोड़ रुपए, दिल्ली को 55 करोड़ रुपए, पश्चिम बंगाल को 53 करोड़ रुपए, बिहार को 51 करोड़ रुपए, मध्य प्रदेश को 50 करोड़ रुपए, राजस्थान को 50 करोड़ रुपए और कर्नाटक को 34 करोड़ रुपए दिए गए हैं।